Diarrhea in Bilaspur के मरीजों की तादाद में वृद्धि, सौरभ तिवारी की रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शहर Diarrhea in Bilaspur का कहर बढ़ गया है। शहर के विभिन्न इलाकों में दूषित पेयजल के कारण लगातार Diarrhea in Bilaspur के मरीज मिल रहे हैं। इस खतरनाक बीमारी ने बिलासपुर के लोगों को जकड़ लिया है, जिसके परिणामस्वरूप अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है। हम इस लेख में इस मामले के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे, ताकि हम सभी जान सकें कि डायरिया से बचने के उपाय (Ways to avoid diarrhea) क्या हो सकते हैं।

Diarrhea in Bilaspur के मरीजों की तादाद में बढ़ोतरी

नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, सीएमएचओ से मिली जानकारी के अनुसार, शहर में कुल 20 डायरिया के मरीज हैं, और उनका उपचार जारी है। हाल ही में तिफरा क्षेत्र में 23 डायरिया के मरीज मिले, और इमलीपारा में 30 मरीज पाए गए हैं। यह स्थिति गंभीर है और इसे तेजी से नियंत्रित करना आवश्यक है।

बढ़ रहा है Diarrhea का खतरा, जानिए इससे बचने के अचूक उपाय

Why and how does diarrhea occur?

1. कारण (Causes):

Diarrhea in Bilaspur
बैक्टीरिया, वायरस, या पारजीविक कीटाणु Image Credit – gettyimages
  • Infections सबसे आम कारण है, जिसमें बैक्टीरिया, वायरस, या पारजीविक कीटाणु आपके पाचन तंत्र को प्रभावित करते हैं, जिसके परिणामस्वरूप डायरिया होता है।
  • Contaminated Water and Food में मौजूद जीवाणु और जीवाणु संक्रमण के कारण डायरिया हो सकता है।
  • कुछ लोगों को किसी खाद्य पदार्थ या दवाओं के खिलाफ Allergies हो सकती है, जिसका परिणामस्वरूप डायरिया हो सकता है।
  • Kidney Issues भी डायरिया के कारण बन सकती हैं, क्योंकि गुर्दे के निष्कासन में समस्याएँ हो सकती हैं।
Also Read  Dengue Fever in Bangladesh | 1,000 से अधिक लोगों की मौके पर मौत

2. कैसे होता है (How it Happens):

Diarrhea in Bilaspur
Diarrhea in Bilaspur | Image Credit – gettyimages
  • अधिकतम पानी और अपानी निष्कासन: डायरिया के समय, आपके दिल्ली तंत्र के लिए पानी का अधिक संचयन होता है और आपके अपानी निष्कासन का अधिकतम होता है।
  • Digestive System Disturbance – इंफेक्शन, खराब खाद्य पदार्थ, और अल्लर्जिक प्रतिक्रियाओं के कारण आपके पाचन तंत्र को संकट हो सकता है, जिससे खाद्य पदार्थों का संपादन और पानी का संचयन अधिक होता है।
  • पाचन तंत्र में गंभीर समस्याएँ: गुर्दे की समस्याएँ और अन्य पाचन तंत्र की समस्याएँ भी डायरिया को बढ़ा सकती हैं।

3. लक्षण (Symptoms)

  • बार-बार पानी जाना
  • पेट में दर्द और क्रिम्प
  • उबकाई और उलटी
  • तंत्रिका क्षमता में कमी
  •  तापमान का बढ़ना
  • खाद्य पदार्थों के खिलाफ अयोजन

यदि आपको डायरिया के लक्षण होते हैं और ये लक्षण लंबे समय तक बने रहते हैं, तो आपको चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए। वे सही निदान करेंगे और आपको उपचार की दिशा में मार्गदर्शन करेंगे।

Cause of diarrhea: दूषित पानी की समस्या?

Diarrhea in Bilaspur
Problem of contaminated water. Image Credit – gettyimages

इस विस्फोटक स्थिति का कारण शहर में दूषित पानी के आपूर्ति की समस्या हो सकती है। अगस्त में, बिलासपुर के कई इलाकों में पाइपलाइन से दूषित पानी की सप्लाई होने की बात सामने आई थी, लेकिन इसका कोई निर्णय नहीं लिया गया। इस परिस्थिति के चलते जनता को बहुत सावधान रहना होगा, और वे सुनिश्चित करें कि वे केवल सुरक्षित पेयजल का उपयोग करते हैं।

Ways to avoid diarrhea

  1. स्वच्छता का पूरी तरह से पालन करें: हमेशा हाथों को साबुन और पानी से धोते रहें, खाने से पहले और खाने के बाद।
  2. सुरक्षित पानी का उपयोग करें: पीने के पानी को खुद उबालें या बोतल के पानी का उपयोग करें, और सुनिश्चित करें कि बोतल सफाई से रखी जाती है।
  3. स्वस्थ आहार खाएं: अपने आहार में प्रोटीन, फल, सब्जियां, और फाइबर-रिच खाद्य पदार्थ शामिल करें।
  4. बाहरी खाने के सामग्री की सफाई और सुरक्षा का ध्यान रखें: बाहरी खाने के सामग्री को अच्छी तरह से पकाएं और सुरक्षित रखें।
  5. टीकाकरण कार्यक्रमों का पालन करें: विशेष रूप से छोटे बच्चों को डायरिया के खिलाफ टीकाकरण दिलाने में योगदान करें।
  6. जल्दी से उपचार करें: अगर आपको डायरिया के लक्षण दिखाई देते हैं, तो तुरंत चिकित्सक से सलाह लें और उपचार करवाएं।
  7. खासतर परहेज करें: यदि आपको डायरिया है, तो अन्य लोगों से संपर्क में रहें और अपने हाथों का साथी को धोने के लिए साबुन और पानी का उपयोग करें।
  8. ड्रिंकिंग वॉटर की सतर्कता: जब आप बाहर जाते हैं, तो ड्रिंकिंग वॉटर की सतर्कता बरतें, और अगर आपको संदेह है, तो बोतल का पानी पीना बेहतर हो सकता है।
  9. हाथों के साथ हाथीं पूजा बरतना: हमेशा हाथों के साथ हाथीं पूजा बरतें और डायरिया से पीड़ित होने पर डॉक्टर की सलाह लें।
Also Read  Lobea: प्रोटीन का सबसे शक्तिशाली स्रोत

Read More – Dengue Fever in Bangladesh

Being careful is our job

डायरिया एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है, और हमें इसे गंभीरता से लेना चाहिए। सावधानी बरतने से हम खुद को इस खतरनाक बीमारी से बचा सकते हैं। इस समय, स्थानीय सरकार और चिकित्सकों की ओर से भी डायरिया के मरीजों के लिए सहायता प्रदान की जा रही है, और हम सभी को मिलकर इस समस्या का समाधान ढूंढना होगा।

How to stop diarrhea and what NOT to do

Stop diarrhea and what NOT to do

Ending

डायरिया एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है, और बिलासपुर में इसका प्रकोप बढ़ गया है। हमें सभी को सावधान रहना होगा और उपरोक्त सुझावों का पालन करना होगा, ताकि हम स्वस्थ रह सकें। इस समय, स्थानीय अधिकारियों से भी यह आवश्यक है कि वे जल्दी से उपचार की प्रक्रिया को तेजी से पूरा करें और डायरिया से पीड़ित लोगों को सहायता पहुंचाएं। इस विचार में हम सभी को एक साथ काम करना होगा, ताकि हम इस महामारी को हरा सकें और हमारे शहर को स्वस्थ बना सकें।

Hello I am Sam

1 thought on “Diarrhea in Bilaspur के मरीजों की तादाद में वृद्धि, सौरभ तिवारी की रिपोर्ट”

Leave a Comment